पिता करते थे वायर फैक्ट्री में मजदूरी, आज करोड़ो में खेल रहा है उनका ये क्रिकेटर बेटा… देखिये

आप अगर बहुत ही ऊँचे ऊँचे स्तर के सेलेब देखेंगे तो कोई भी अगर अर्श तक पहुंचा हुआ शख्स है तो उनमे से अधिकतर लोग ऐसे है जिन्होंने फर्श से अपनी जिन्दगी की शुरुआत की है। क्रिकेट की दुनिया तो हकीकत में कुछ ऐसी ही है। यहाँ पर आपको कई ऐसे लोग मिलेंगे जिन्हें देखने के बाद में आपको महसूस होगा कि सफलता का एक ही रहस्य है और वो है संघर्ष आपको अपनी परिस्थितियों से अपने आपको संभालते हुए मिलता है।  फ़िलहाल हम जिसके बारे में बात कर रहे है वो एक महान क्रिकेटर है।

नाम है नाथू सिंह,आईपीएल के एक सीजन में उन्हें नीता अम्बानी पूरे 3.5 करोड़ रूपये में खरीद चुकी है। नाथू सिंह की बचपन से ही क्रिकेट में बड़ी रुचि रही लेकिन क्योंकि क्रिकेट में रुचि लेने भर से ही कुछ नही होता है आपको उसमे पैसा भी लगाना पड़ता है आपको उससे जुडी सामग्री खरीदनी पड़ती है।  क्रिकेट एकेडमी का पैसा भरना पड़ता है और तमाम बाते होती है।

अब नाथू सिंह के पिता तो एक मामूली से वर्कर थे जो एक वायर की फेक्ट्री में काम करते थे ऐसे में वो इतनी सी तनख्वाह में कहाँ उन्हें बड़ी जगह से तैयारी करवाते और महंगी चीजे दिलवाते? लेकिन उन्होंने किया, पैसा उधार लेकर के भी अपने बेटे के लिए जूते वगेरह लाये और सारी तैयारी करवाई और आज नाथू सिंह उस मुकाम पर है जहाँ उनकी बोली करोडो में लगती है।  आईपीएल के एक सीजन में उन्हें नीता अम्बानी पूरे 3.5 करोड़ रूपये में खरीद चुकी है।

एक सीजन में उनकी बोली पूरे 50 लाख रूपये तक लग चुकी है और जितने की उनकी बोली लगी उन्होंने उसके बदले रिटर्न दिया भी है।  जी हाँ, नाथू सिंह बहुत ही तेज गति से स्विंग कराते हुए बॉल्स फेंकने में माहिर है और विकेट बड़ी तेजी से चटकते है।

उन्होंने अपने पिताजी के लिए बहुत ही बड़ा और आलीशान महल बनाने का ख्वाब देखा है।